सुचना: प्रिय मैथिल बंधूगन, किछ मैथिल बंधू द्वारा सोसिअल नेटवर्क (फेसबुक) पर एक चर्चा उठाओल गेल " यो मैथिल बंधूगन कहिया ई दहेजक महा जालसँ मिथिला मुक्त हेत ?" जकरा मैथिल बंधुगणक बहुत प्रतिसाद मिलल! तहीं सँ प्रेरीत भs कs आय इ जालवृतक निर्माण कएल गेल अछि! सभ मैथिल बंधू सँ अनुरोध अछि, जे इ जालवृत में जोर - शोर सँ भागली, आ सभ मिल सपथ ली जे बिना इ प्रथा के भगेना हम सभ दम नै लेब! जय मैथिली, जय मिथिला,जय मिथिलांचल!
नोट: यो मैथिल बंधुगन आओ सभ मिल एहि मंच पर चर्चा करी जे इ महाजाल सँ मिथिला कोना मुक्त हेत! जागु मैथिल जागु.. अपन विचार - विमर्श एहि जालवृत पर प्रकट करू! संगे हम सभ मैथिल नवयुवक आ नवयुवती सँ अनुरोध करब, जे अहि सबहक प्रयास एहि आन्दोलन के सफलता प्रदान करत! ताहीं लेल अपने सभ सबसँ आगा आओ आ अपन - अपन विचार - विमर्श एहि जालवृत पर राखू....

शुक्रवार, 15 अप्रैल 2011

सभा गाछी आब नइए रहत बीरान - विकाश झा

सभा गाछी आब नइए रहत बीरान !
एकसय जोरिक इ बनत मचान !

फेसबुक पर आई कईएल मचल घमासान,
दहेज़ मुक्त मिथिला अछी बनल दालान !

कलंकी दहेज़ के करू भसान ,
मिथिलाक धिया ने देती आब जान !

बुढ़बा जुअनका अछी सबहक रुझान ,
घरे- घरे चर्चा आ चौक पर ठेकान !

जागू यौ मैथिल आब करू मिलान ,
सौराठे मैं हैत आब एकर निदान !

अर्थ दीयौ, बेर दीयौ करू इ आन ,
पाछु ने हटब आ चलायब अभियान !

प्रवीण,प्रकाश आ राजूक अगुआन ,
बिकासक सनेह करैत बिकासे बखान !

सनेहक संग...
विकाश झा

0 टिप्पणियाँ:

एक टिप्पणी भेजें

  © Dahej Mukt Mithila. All rights reserved. Blog Design By: Jitmohan Jha (Jitu)

Back to TOP